Home » हम दिल्ली सरकार के स्कूलों में  संयुक्त राज्य अमेरिका के राष्ट्रपति और पहली महिला को आमंत्रित करते हैं ताकि हमारे छात्रों को उनके साथ बातचीत करने का मौका मिले – मनीष सिसोदिया*
Delhi

हम दिल्ली सरकार के स्कूलों में  संयुक्त राज्य अमेरिका के राष्ट्रपति और पहली महिला को आमंत्रित करते हैं ताकि हमारे छात्रों को उनके साथ बातचीत करने का मौका मिले – मनीष सिसोदिया*

 

हम दिल्ली सरकार के स्कूलों में  संयुक्त राज्य अमेरिका के राष्ट्रपति और पहली महिला को आमंत्रित करते हैं ताकि हमारे छात्रों को उनके साथ बातचीत करने का मौका मिले - मनीष सिसोदिया* नई दिल्ली, 25.01.2021 :   उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने आज दिल्ली के पूर्व-सेवा अध्यापक प्रशिक्षुओं के लिए ‘टीचिंग इंग्लिश फ़ॉर 21st सेंचुरी’ तथा ‘कॉन्टेंट-लैंग्वेज इंटीग्रेटेड लर्निंग स्किल्स’ नामक सर्टिफिकेट प्रोग्राम लॉन्च किया। इस मौके पर भारत स्थित अमेरिकी दूतावास के मिनिस्टर काउंसलर फॉर पब्लिक अफेयर्स  डेविड कैनेडी  व दिल्ली के शिक्षा निदेशक उदित प्रकाश राय भी मौजूद थे।

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि अमेरिकी दूतावास और दिल्ली सरकार पिछले 5 सालों से अध्यापक शिक्षण के क्षेत्र में काम कर रही है। अब हमें भविष्य के शिक्षकों को तैयार करना है, जो 21वीं शताब्दी के कौशलों से लैस हो।

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि अंग्रेजी अब वैश्विक स्तर पर एक जरूरी भाषा बन चुकी है। हम शिक्षकों को और अधिक रचनात्मक तरीके से छात्रों को पढ़ाने में मदद करना चाहते हैं। इस पाठ्यक्रम के जरिए हम शिक्षण के नए तरीके सीखने के लिए पूर्व-सेवा प्रशिक्षु अध्यापकों को हर तरह की सहायता एवं प्रशिक्षण प्रदान करेंगे।

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि अमेरिकी की पूर्व प्रथम महिला मेलियाना ट्रम्प ने दिल्ली के विद्यालय का दौरा कर दिल्ली के शिक्षा मॉडल व हैप्पीनेस करिकुलम की सराहना की थी। दिल्ली सरकार अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति व प्रथम महिला को भी दिल्ली के सरकारी विद्यालयों के दौरे के लिए आमंत्रित करती है।

इस सर्टिफिकेट प्रोग्राम का उद्देश्य राष्ट्रीय शिक्षा नीति के उद्देश्यों को ध्यान में रखते हुए दिल्ली के पूर्व-सेवा अध्यापक प्रशिक्षुओं की अंग्रेजी भाषा शिक्षण क्षमता बढ़ाकर अंग्रेजी की उत्कृष्ट पढ़ाई सुनिश्चित करना एवं 21वीं शताब्दी के शिक्षण कौशलों का विकास करना है। इस प्रोग्राम में 700 पूर्व-सेवा अध्यापक प्रशिक्षुओं को शामिल किया गया है।

लॉन्च के दौरान भारत स्थित अमेरिकी दूतावास के क्षेत्रीय अंग्रेजी भाषा अधिकारी रूथ ने दिल्ली सरकार के साथ अमेरिकी दूतावास के लंबे अरसे से जारी सहयोग पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार के शिक्षकों के उत्कृष्ट प्रशिक्षण की दिशा में उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के प्रयास सराहनीय हैं। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार के साथ हमारे संबंध काफी महत्वपूर्ण हैं। दिल्ली सरकार के साथ मिलकर भविष्य में और ऐसे प्रशिक्षण जारी रखेंगे।

उल्लेखनीय है कि अमेरिकी दूतावास के क्षेत्रीय अंग्रेजी भाषा कार्यालय (RELO) द्वारा पूर्व-सेवाकालीन अध्यापक प्रशिक्षुओं के लिए डिज़ाइन ‘टीचिंग इंग्लिश फ़ॉर 21st सेंचुरी’ तथा ‘कॉन्टेंट-लैंग्वेज इंटीग्रेटेड लर्निंग स्किल्स’ कोर्स की अवधि 10 सप्ताह की है।
अमेरिकी दूतावास के क्षेत्रीय अंग्रेजी भाषा कार्यालय(RELO) ने यह कोर्सेज 3 सप्ताह के पायलट प्रोग्राम के रूप में एसपी मुखर्जी कॉलेज फ़ॉर वुमन में 50 पूर्व-सेवाकालीन अध्यापक प्रशिक्षुओं के साथ किया। पायलट प्रोग्राम की सफलता को देखते हुए दिल्ली व एनसीआर के 9 महिला कॉलेजों के 700 प्रशिक्षुओं के साथ इस प्रोग्राम की शुरुआत की जा रही है। यह प्रोग्राम 12 अप्रैल 2021 तक चलेगा।

All Time Favorite

Categories