Home » सोशल मीडिया और आनलाईन प्रणाली से अंतर्राष्टï्रीय गीता महोत्सव का आयोजन:मेहता
Hindi News News

सोशल मीडिया और आनलाईन प्रणाली से अंतर्राष्टï्रीय गीता महोत्सव का आयोजन:मेहता

सोशल मीडिया और आनलाईन प्रणाली से अंतर्राष्टï्रीय गीता महोत्सव का आयोजन:मेहता
बिना श्रृद्घालुओं और पर्यटकों के होंगे कार्यक्रम, कुरुक्षेत्र विकास बोर्ड ने जारी किया अंतर्राष्टï्रीय गीता महोत्सव-2020 का शैडयूल, 21 दिसम्बर को प्रात:10 बजे पुरुषोतमपुरा बाग में होगा गीता यज्ञ.
कुरुक्षेत्र 4 दिसम्बर,2020:  कुरुक्षेत्र विकास बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अनुभव मेहता ने कहा कि कोविड-19 से बचाव को लेकर इस वर्ष अंतर्राष्टï्रीय गीता महोत्सव-2020 का शैडयूल तैयार किया गया है। इस शैडयूल के अनुसार अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव 2020 में सांस्कृतिक कार्यक्रमों और क्राफ्ट मेले का आयोजन नहीं किया जा रहा है। इस वर्ष सभी कार्यक्रम आनलाईन प्रणाली, वेब सेमिनार और सोशल मीडिया के जरिए ही आमजन तक पहुंचाए जाएंगे, क्योंकि कोविड-19 की गाईडलाईंस के अनुसार किसी कार्यक्रम में पर्यटकों और श्रद्घालुओं को आमंत्रित नहीं किया जा रहा और हर कार्यक्रम के लिए श्रद्घालुओं की संख्या निर्धारित की गई है तथा इन लोगों को केडीबी द्वारा चिन्हित किया जाएगा।
इसलिए इस बार लोगों को प्रशासन का सहयोग करना होगा। सीईओ अनुभव मेहता शुक्रवार को अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव 2020 कार्यक्रमों के आयोजन को लेकर ब्रहमसरोवर पर कार्यक्रम स्थल का जायजा ले रहे थे। उन्होंने कहा कि केडीबी द्वारा जारी किए गए शैडयूल के अनुसार 17 दिसम्बर से 25 दिसम्बर तक रोजाना पुरषोतमपुरा बाग ब्रहमसरोवर पर सायं 5 बजकर 30 मिनट पर आरती का आयोजन किया जाएगा और विधिवत रुप से 21 दिसम्बर से पुरुषोतमपुरा बाग में सुबह 11 बजे गीता यज्ञ से महोत्सव का शुभारम्भ होगा। इस यज्ञ के लिए 5 कुंड बनाए जाएंगे, प्रत्येक कुंड यज्ञ पर बैठने वाले व्यक्तियों की संख्या 25 तक ही सीमित होगी। इस प्रकार कुल 125 लोगों को ही गीता यज्ञ में बैठने के लिए अनुमति दी जाएगी। इस वर्ष कोविड-19 को लेकर निर्धारित शैडयूल के अनुसार कार्यक्रम आनलाईन प्रणाली और सोशल मीडिया के जरिए ही पर्यटकों और श्रद्घालुओं तक पहुंचाए जाएंगे। इसलिए सभी लोग घर बैठे आनलाईन प्रणाली से ही गीता महोत्सव के कार्यक्रमों को देखे।
उन्होंने कहा कि 21 दिसम्बर को कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के राधाकृष्ण सदन में अंतर्राष्टï्रीय गीता वेबीनार दोपहर 12 बजे शुरु होगा और यह वेबीनार 23 दिसम्बर तक चलेगा, 21 से 25 दिसम्बर तक ज्योतिसर एवं सन्निहित सरोवर पर सुबह 10 बजकर 30 मिनट पर रोजाना गीता पाठ का आयोजन होगा। इसके अलावा 3 से 12 दिसम्बर तक सुबह 10 बजे विद्यार्थियों के लिए गीता एवं महाभारत पर आधारित आनलाईन जिलास्तरीय प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाएगा और 15 से 20 दिसम्बर तक सुबह 10 बजे आनलाईन राज्यस्तरीय प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाएगा। जन सामान्य के लिए भी 4 से 21 दिसम्बर तक गीता व महाभारत पर आधारित प्रश्नौतरी प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाएगा, 24 दिसम्बर को दोपहर 2 बजे कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के राधाकृष्ण सदन में संत सम्मेलन का आयोजन होगा।
महोत्सव के अंतिम दिन 25 दिसम्बर को दोपहर 12 बजे पुरुषोतमपुरा बाग से आनलाईन प्रणाली से वैश्विक गीता पाठ का आयोजन होगा और 25 दिसम्बर को ही सायं 6 बजे ब्रहमसरोवर एवं 48 कोस कुरुक्षेत्र के तीर्थों पर दीपोत्सव कार्यक्रम का आयोजन होगा। अंतर्राष्टï्रीय गीता महोत्सव 2020 में कोविड-19 की गाईडलाईंस की सख्ती से पालना की जाएगी। सभी कार्यक्रमों में निर्धारित संख्या से ज्यादा व्यक्तियों को शामिल होने की अनुमति नहीं दी जाएगी और सभी को सोशल डिस्टैंस, मास्क और सेनीटाईजर आदि का प्रयोग करना होगा।
गौतम देव ( वरिठ पत्रकार )

All Time Favorite

Categories