Home » सितंबर माह राष्ट्रीय पोषण माह का शुभारंभ
Haryana Hindi News NCR

सितंबर माह राष्ट्रीय पोषण माह का शुभारंभ

सितंबर माह राष्ट्रीय पोषण माह का शुभारंभ
सिद्वार्थ यादव द्वारा
रेवाड़ी 13 सितंबर 2018 : महिला एवं बाल विकास मंत्रालय भारत सरकार द्वारा सितंबर माह राष्ट्रीय पोषण माह के रूप में मनाया जा रहा है, जिसका शुभारंभ एडीसी प्रदीप दहिया ने नागरिक अस्पताल रेवाड़ी में वीरवार को किया।
एडीसी दहिया ने कहा कि संतुलित पोषाहार से शरीर निरोग रहता है तथा शरीर में खून की कमी नहीं होती, जिस कारण बिमारियों का भय कम रहता है। उन्होंने कहा कि इस पोषण अभियान के अन्तर्गत गर्भवति महिलाओं, किशोरियों व बच्चों को विद्यालयों में पोषण अभियान के अन्तर्गत नि:शुल्क आयुर्वेदिक, हौम्योपैथिक औषद्यियां वितरित की जाएगी तथा स्वस्थ रहने के लिए आयुर्वेद व योग के माध्यम से दिनचर्या, ऋतुचर्या के बारे में विस्तार से जानकारी दी जाएगी। उन्होंने बताया कि आयुर्वेद में अनेको जडी बुटियां, हमारे दैनिक जीवन में रसोई के माध्यम से काम आती है। उनके प्रयोग के बारे में महिलाओं एवं छात्राओ को जानकारी दी जाएगी ताकि उनका उचित प्रयोग कर परिवार को निरोग रखा जा सकें। उन्होंने बताया कि सही मात्रा में आयुर्वेद वस्तु का प्रयोग करने से हमें बिमारियों से तो छुटकारा मिलता है बल्कि हमारा शरीर हष्ट पुष्ट रहता है। उन्होंने लोगों से आह्वान किया है कि वे इस पोषण अभियान का पूरा लाभ उठाएं।
जिला आयुर्वेद अधिकारी डॉ अजीत सिंह ने बताया कि 14 सितंबर को राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक रेवाडी, 15 को सीएचसी खोल, 17 सितंबर को राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय बावल, 18 को नागरिक अस्पताल कोसली, 19 को राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय धारूहेडा, 20 को सीएचसी मीरपुर, 21 को राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय डहीना, 22 को जीएडी सहारनवास, 24 को राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक गुरावडा, 25 को पीएचसी संगवाडी, 26 को राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय जाटूसाना, 27 को जीएडी नंदरामपुर बास, 28 को राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय खोरी, 29 को जीएडी प्राणपुरा में प्रात: 9 बजे से 3 बजे तक पोषण अभियान शिविर का आयोजन किया जाएगा।
इस दौरान गर्भवती महिलाओं, धात्री महिलाओ एवं नवजात शिशुओं, बच्चों, किशोरियो को कुपोषण से बचाने के लिए दैनिक प्रयोग आंने वाली आयुर्वेदिक औषधियों के बारे में एवं खान पान के तरीकों के बारे में आयुर्वेदिक विशेषज्ञों द्वारा व्याख्यान दिया जाएगा और चिकित्सा शिविर का आयोजन किया जाएगा । शिविर में बच्चो की रोगप्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए स्वर्णप्रशन, ऋतुकाल ( माहवारी) में अपनाई जाने वाली सावधानियां, दूध पिलाने वाली माताओ में प्रयुक्त औषधियों, किशोरियो को स्वस्थ रहने और कुपोषण से बचने के लिए सावधानियों को प्रदर्शनी द्वारा दर्शाया जाएगा।
शिविर में गिलोय काढ़ा का भी वितरण किया गया। कार्यक्रम में सिविल सर्जन डॉ कृष्ण कुमार , डॉ सुदर्शन पवार उपस्थित रहे ।  नि:शुल्क काढ़ा वितरण के साथ आयुष दर्द निवारण चिकित्सा शिविर का भी आयोजन किया गया जिसमे जोड़ो का दर्द, कमरदर्द, गठिया, सियाटिका आदि रोगों की विशेष चिकित्सा एवं परामर्श दिया गया ।
शिविर में आयुष विभाग से कार्यक्रम के नोडल अधिकारी डॉ बसंत कुमार, डॉ कृष्णा, डॉ कोमल, डॉ मुनेश , डॉ नरेश, राकेश योगाचार्य, सुनील कुमार, राजपाल  डिस्पेन्सर मौजूद रहे ।

About the author

SK Vyas

Most Read

All Time Favorite

Categories

RSS Tech Update

  • An error has occurred, which probably means the feed is down. Try again later.