Home » संसार में मनुष्य द्वारा जन्म लेना और मृत्यु को प्राप्त करना प्रकृती का विधान
Health Hindi News NCR

संसार में मनुष्य द्वारा जन्म लेना और मृत्यु को प्राप्त करना प्रकृती का विधान

संसार में मनुष्य द्वारा जन्म लेना और मृत्यु को प्राप्त करना प्रकृती का विधान

नांगल चौधरी,नारनौल 15मार्च,2020 ( त्रिभुवन वर्मा /सुरेन्द्र व्यास द्वारा ) : संसार में मनुष्य द्वारा जन्म लेना और मृत्यु को प्राप्त करना प्रकृती का विधान:ओमप्रकाश यादव:  प्रदेश के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ओम प्रकाश यादव ने रविवार को अमरपुरा पहुंचकर पूर्व जिला परिषद प्रमुख बर्फी देवी के चित्र पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी।
उन्होंने दिवंगत आत्मा की जीवनी पर प्रकाश डालते आज के युवाओं को नसीहत देते हुए कहा कि इस संसार में मनुष्य द्वारा जन्म लेना और मृत्यु को प्राप्त करना प्रकृती का विधान है। इस विधान को बड़े से बड़े ऋर्षि मुनि तपस्या के बल से भी नहीं रोक पाए। जन्म और मृत्यु सब मनुष्य के प्रारंभ के कर्मो पर निर्भर है।
ऐसा हमारे शास्त्रों में लिखा हुआ है।  इस सच्चाई का सामना इस संसार में आए हुए हर व्यक्ति को करना पड़ेगा। संसार से गए हुए व्यक्ति को समाज में अच्छे या बुरे कर्मों के कारण ही याद किया जाता है। इसलिए मनुष्य को हमेशा अच्छे कर्म करना चाहिए। पूर्व जिला परिषद प्रमुख बर्फी देवी बहुत अधिक पढ़ी-लिखी महीला नहीं थी, लेकिन उनके कार्य करने की शैली बहुत निपुण थी। जिला परिषद प्रमुख बनने के बाद उन्होंने मानव भलाई व मनुष्य के उत्थान के लिए अनेक योजनाएं बनाकर कार्य किये। जिसके कारण लोग आज भी उसे दुनिया से जाने के बाद में याद करते हैं। उन्होंने स्व.बर्फी देवी के पति पूर्व विधायक राधेश्याम शर्मा को ढांढस बंधाया।
इस मौके पर सनातन धर्म सभा के अध्यक्ष धर्मचन्द छापड़ा,नांगल चौधरी गौशाला प्रधान सुरेश यादव,सेवानिर्वत सैसन जज जयभगवान शर्मा,श्री किशन शर्मा सेवानिर्वत इटीओं,पूर्व जिला पार्षद सतेन्द्र कुमार,जजपा विधायक रामकुमार गौतम के पुत्र रजत गौतम वरिष्ठ अधिवक्त महेन्द्र सिंह यादव भूषण,राकेश महता ऐडवोकेट सहित अनेक लोगों ने अमरपुरा पहुंच कर दिवंगत आत्मा को श्रदांजली दी।

All Time Favorite

Categories