Home » *लाख की खेती से किसान बनेगें लखपति*
Chhatisgarh Hindi News

*लाख की खेती से किसान बनेगें लखपति*

 छत्तीसगढ के बलौदा ब्लाक के बहुत से गांवो में पलास के पेड़ो पर लाख का खेती कर रहे है ।किसान धान की फ़सल के साथ अतिरिक्त आय में रूप में ले रहे है ग्रामीण अंचल में लाख की खेती बरसात के पहले खेती करते है । किसान इसके कीड़े को पलास के पेड़ में छोड़ देते है । इन कीड़ों के द्वारा सूक्ष्म ग्रंथियों से राल का स्राव किया जाता है जो लाख के रूप में प्राप्त होता है। ठंड के समय पेड की डालियों को काटकर इसमें से लाख को अलग किया जाता है।किसान इससे अतिरिक्त आय के रूप में लेते है । खेतो के मेड़ में उगे पलास के पेड़ो में लाख की खेती की जा रही है । इसमें किसान को कोई खर्च भी नहीं करना पड़ता है।किसानो को लाख की खेती से अतिरिक्त आय होती है । सामान्यतःअभी किसान लाख की दो फसलें ले रही है , ग्रीष्मकालीन की फसल अब लगभग तैयार हो चुकी है ।जिले के बलौदा ब्लाक के किसान धान के फसल के साथ लाख,दलहन, तिलहन की खेती कर रहे हैं। बलौदा क्षेत्र मे किसानों के खेतो में पलास के पेड़ बड़ी मात्रा में उपलब्ध हैं। वे लाख की खेती करके लखपति बन रहे हैं। वन विभाग कर माध्यम से जिले के नवागढ़ ब्लाक के ग्रामीण क्षेत्रो में कूल्लू के पेड़ों में लाख की खेती की योजना बनाई जा रही है ।
मोनिका शर्मा
रायपुर

About the author

S.K. Vyas

37 Comments

Click here to post a comment