Education

नई शिक्षा नीति को जन जन तक पहुंचाएगा हकेंवि

नई शिक्षा नीति को जन जन तक पहुंचाएगा हकेंवि
प्रो. आर.सी. कुहाड़

 वेबिनार के बाद कुलपति बोले राष्ट्र निर्माण के इस प्रयास में हकेंवि लगातार पूर्ण ऊर्जा के साथ सक्रिय.

राष्ट्रीय सेवा योजना, राष्ट्रीय कैडेट कौर, नेहरू युवा केंद्र संगठन और उन्नत भारत अभियान के स्वयंसेवकों के माध्यम से राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए शिक्षा मंत्रालय, रक्षा मंत्रालय एवं युवा कार्यक्रम और खेल मंत्रालय, भारत सरकार के संयुक्त तत्वावधान में शिक्षक पर्व आयोजन के अंतर्गत आयोजित वेबिनार को सम्बोधित करते हुए

नई शिक्षा नीति को जन जन तक पहुंचाएगा हकेंवि
रमेश पोखरियाल निशंक

केंद्रीय शिक्षा मंत्री श्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा कि आज पूरा देश शिक्षा के उत्सव को मना रहा है। यह शिक्षा नीति ज्ञान, विज्ञान, तकनीकी, अनुसंधान, नवाचार  और जीवन मूल्यों पर आधारित ऐसी शिक्षा नीति है जो शिक्षा के मोर्चे पर हमारे देश को विश्व पटल पर खड़ा करेगी और हमें एक महाशक्ति के रूप में स्थापित करने में सहयोग करेगी। उन्होंने कहा कि आजादी के बाद संभवतः यह पहली ऐसी नीति है जो सशक्त, समृद्ध और उन्नत भारत के निर्माण की दिशा में अग्रसर करती है। राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 को बनाने में अंतिम छोर के व्यक्तियों से भी उनके सुझाव मांगे गए और उनके सुझावों को नीति में प्रमुखता के साथ समाहित किया गया है। उनके इस सुझाव के लिए उनको धन्यवाद करने का समय आ गया है और एनएसएस, यूथ रेडक्रॉस नेहरू युवा केंद्र और उन्नत भारत अभियान के स्वयंसेवकों के माध्यम से यह कार्य करेंगे। साथ ही इन सहयोगियों की मदद से नई शिक्षा नीति के विभिन्न सकारात्मक पक्षों को जन जन तक पहुँचाया जाएगा। वेबिनार में हरियाणा केंद्रीय विश्वविद्यालय (हकेंवि), महेंद्रगढ़ के कुलपति प्रो. आर.सी. कुहाड़ ने भी प्रतिभागिता की और केंद्रीय शिक्षा मंत्री माननीय रमेश पोखरियाल निशंक जी को आश्वस्त किया हरियाणा केंद्रीय विश्वविद्यालय राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के क्रियान्वयन को लेकर गंभीर है। उन्होंने बताया कि शिक्षा नीति के क्रियान्वयन के लिए टॉस्क फोर्स का गठन तो किया जा चुका है साथ ही विश्वविद्यालय अपने एनएसएस और यूथ रेडक्रॉस के स्वयंसेवकों के माध्यम से शिक्षा नीति को आमजन तक पहुँचाने का कार्य भी करेगा।

नई शिक्षा नीति को जन जन तक पहुंचाएगा हकेंवि
किरेन रिजिजु

युवा मामलों एवं खेल मंत्रालय के राज्य मंत्री श्री किरेन रिजिजु ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 से प्रत्यक्ष-अप्रत्यक्ष रूप से जुड़े सभी लोगों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि नई शिक्षा नीति से देश को नई दिशा और दशा मिलेगी। उन्होंने कहा कि शिक्षा नीति के विभिन्न पक्षों को आमजन तक पहुँचाना हमारी जिम्मेदारी है और मुझे पूरा विश्वास है कि हमारे विभिन्न संगठनों से जुड़े स्वयंसेवक इस कार्य को निपुणता के साथ पूरा करेंगे। वे गावं-गावं, गली-गली जाकर स्थानीय स्तर पर अलग-अलग माध्यमों से राष्ट्रीय शिक्षा नीति के महत्त्वपूर्ण बिंदुओं को आमजन तक पहुँचायेंगे।

नई शिक्षा नीति को जन जन तक पहुंचाएगा हकेंवि
राजनाथ सिंह

देश के रक्षा मंत्री माननीय श्री राजनाथ सिंह ने कहा कि मुझे उम्मीद है कि आज का यह आयोजन युवा छात्रों को समकालीन मुद्दों पर जागरूकता लाने में अहम कड़ी साबित होगा। उन्होंने कहा कि देश के इतिहास में यह पहली ऐसी नीति है जिसमें पंचायत, ब्लॉक व जिला स्तर पर इतने बड़े स्तर पर भागीदारी हुई है। उन्होंने राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 को सही मायने में देश की नीति बताया और कहा कि इस शिक्षा नीति का मुख्य उद्देश्य विद्यार्थियों का समग्र विकास करते हुए एक सशक्त, समृद्ध और श्रेष्ठ भारत का निर्माण करना है। रक्षा मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री ने भी इस नीति को सरकार नहीं बल्कि देश की नीति बताया है और इसे नए भारत के निर्माण में अहम नीति के रूप में प्रस्तुत किया है। रक्षा मंत्री ने इस नीति के विभिन्न पक्षों पर भी प्रकाश डाला और विभिन्न संगठनों के स्वयंसेवको से आह्वान किया कि वे नई शिक्षा नीति की बुनियादी बातों को देश के कोने-कोने तक पहुँचाकर शिक्षित राष्ट्र के निर्माण में योगदान करें।

नई शिक्षा नीति को जन जन तक पहुंचाएगा हकेंवि

हरियाणा केंद्रीय विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. आर.सी. कुहाड़ ने भी इस आभासी कार्यक्रम में हिस्सा लिया और माननीय रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह और माननीय शिक्षा मंत्री श्री रमेश पोखरियाल निशंक को भरोसा दिलाया कि विश्वविद्यालय नई शिक्षा नीति के सफलतम क्रियान्वयन से लेकर इसकी खूबियों को जन जन तक पहुंचाने के लिए हर मुमकिन कोशिश कर रहा है और इसे जारी रखेगा। कुलपति ने वेबिनार के बाद कहा कि कोरोना काल में भी हमारी एनएसएस/वाईआरसी इकाई के स्वयंसेवक लगातार जन जागरूकता के लिए कार्य कर रहे हैं। विश्वविद्यालय की ओर से कार्यक्रम में कुलसचिव डॉ. जे.पी. भूकर, नेहरू युवा केंद्र, महेंद्रगढ़ के समन्वयक महेंद्र नायक, छात्र कल्याण अधिष्ठाता प्रो. दिनेश गुप्ता, शैक्षणिक अधिष्ठाता प्रो. संजीव कुमार, डॉ. रमेश देशवाल, डॉ. अजयपाल, एनएसएस की प्रोग्राम ऑफिसर डॉ. रेनु यादव, एनएसएस इकाई के समन्वयक डॉ. दिनेश चहल, नई शिक्षा नीति के क्रियान्वयन के लिए गठित विश्वविद्यालय की टॉस्क फोर्स के सदस्यों सहित स्वयंसेवकों ने भी हिस्सा लिया।

All Time Favorite

Categories