Home » दिल्ली के स्कूल व कालेज में लड़कों को महिला सम्मान की दिलाई जाएगी शपथ , अरविंद केजरीवाल 
Delhi Hindi News

दिल्ली के स्कूल व कालेज में लड़कों को महिला सम्मान की दिलाई जाएगी शपथ , अरविंद केजरीवाल 

दिल्ली के स्कूल व कालेज में लड़कों को महिला सम्मान की दिलाई जाएगी शपथ , अरविंद केजरीवाल 
दिल्ली सरकार महिला सुरक्षा के लिए स्कूल व कालेज स्तर पर उठाएगी तीन स्टेप
 महिला सुरक्षा के लिए समाज को सोच बदलनी होगी –  अरविंद केजरीवाल.
नई दिल्ली ,१४ दिसंबर ,२०१९( वरुण भरद्वाज द्वारा) दिल्ली में महिला सुरक्षा के लिए मुख्यमंत्री  अरविंद केजरीवाल ने बड़ा निर्णय लिया है। अब दिल्ली के सभी स्कूल व कालेज में लड़कों को महिला सम्मान की शपथ दिलाई जाएगी। जिसमें लड़कों को इस बात की कसम दिलाई जाएगी कि वह किसी महिला के साथ दुर्वयवहार या दुराचार नहीं करेंगे। ऐसा कक्षा 6 से शुरू किया जाएगा। साथ ही सभी स्कूल व कालेज की लड़कियों को इस बात के लिए प्रेरित किया जाएगा कि वह अपने अपने भाईयों से बात करें कि वह महिलाओं का सम्मान करेंगे, ऐसा करने के बाद लड़कियों को इसकी जानकारी स्कूल व कालेज में भी देनी होगी।
इसके अलावा सभी स्कूल व कालेज में महिला सुरक्षा पर एक घंटे की क्लास चलेगी। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का कहना है कि महिला सुरक्षा के लिए सभी सरकारों को मिलकर काम करना चाहिए। उन्होंने कहा महिलाओं की सुरक्षा को लेकर देश चिंतित है। सब लोग अपने परिवार को लेकर चिंतित है। मैं दिल्ली का मुख्यमंत्री होने के नाते दिल्ली की मां-बहनों को लेकर चिंतित हूं। इस समस्या के समाधान के लिए सभी को साथ आने की जरूरत है। सरकारें व पुलिस अपना काम करेंगी। लेकिन समाज में जो विकृति आती जा रही हैं उसके लिए हमें समाज की सोच बदलने की आवश्यकता है।
दिल्ली सचिवालय में मीडिया को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री श्री   अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली सरकार एक अभियान चलाकर सोच बदलेगी। सीएम ने कहा दिल्ली के सभी स्कूल-कालेज में लड़कों को शपथ दिलाएंगे कि किसी महिला से दुराचार या दुर्व्यवहार नहीं करेंगे। इससे हर लड़का सोचेगा कि उसे गलत काम नहीं करना है। लड़कियां घर में जाकर भाईयों से बात करें कि वह किसी महिला के साथ गलत काम नहीं करें। बहन अपने भाई से कहे कि अगर उसने कोई गलत काम किया तो उससे संबंध नहीं रहेगा। सीएम ने कहा कि अपराधी से समाज रिश्ता तोड़ता है लेकिन अब परिवार को भी रिश्ता तोड़ने की जरूरत है। परिवार को बायकॉट करने की जरूरत है।
सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा दिल्ली के सभी स्कूल व कालेज की हर क्लास में महिला सुरक्षा पर चर्चा होगी। यह पूरे समाज के लिए जरूरी है। एक घंटे की चर्चा होगी। इसे एक समय अंतराल पर लगातार कराया जाएगा। क्लास में समाज में क्या हो रहा है, इसपर चर्चा होगी। सीएम ने कहा कि हम निजी स्कूल को बोलेंगे। सारे कालेज को बोलेंगे। जिससे पूरे दिल्ली में ऐसा हो सके। उन्होंने कहा महिला सुरक्षा पर आपस में चर्चा की जरूरत है। बहन को भाई को कहने की जरूरत है कि गलत किया कि बात मत करना बंद हो जाएगा।
दिल्ली सरकार ने महिला सुरक्षा के लिए सीसीटीवी कैमरे लगवाए, बसों में मार्शल नियुक्त किए, रविवार से दो लाख स्ट्रीट लाईट लगवा रहे हैं। लेकिन इसके लिए सभी सरकारों को साथ आकर काम करने की जरूरत है। पुलिस को दुरुस्त होने की जरूरत है। साथ ही समाज को आगे आने की जरूरत है। यह सोचना होगा कि युवाओं की सोच विकृत क्यों हो रही है ।
सरकार को जो कहना है, वह होगा लेकिन समाज को भी आगे आना होगा – अरविंद केजरीवाल 
सीएम ने कहा सरकार को जो करने की जरूरत है, वह होगा। सीसीटीवी लगाने की जरूरत है, लगेंगी। फारेंसिक लैब या कोर्ट की जरूरत हैं, बनेंगे। पुलिस को सुधारने की जरूरत है, सुधारा जाएगा। स्ट्रीट लाईट लगाने की जरूरत है, लगेंगी। यह सब ठीक है कि हो जाएगा, पुलिस भी सुधर जाएगी। लेकिन हमें अपनी सोच भी बदलनी होगी। आज ऐसा क्यों हो रहा है कि इतने बड़े स्तर पर कुछ मर्द ऐसा व्यवहार कर रहे हैं। हमें अपने परिवार के मर्दों को समझाना होगा। हर  परिवार को यह करना होगा। हमें अपने मर्दों को समझाना होगा कि अगर वह किसी महिला के साथ कुछ गलत करते हैं तो समाज बाद में कुछ करेगा, परिवार पहले बहिष्कार करेगा। अगर हर मां अपने बेटे को और हर बहन अपने भाई से बात कर तो इसे रोका जा सकता है। हमें यह बताना होगा कि अगर ऐसा अपने घर में हुआ तो कैसा लगेगा।
महिला सुरक्षा के लिए यह तीन काम होंगे 
सभी स्कूल और कालेज में विशेष क्लास –  सभी स्कूलों व कालेजों में एक घंटे की विशेष क्लास लगेगी, जिसमें महिलाओं के साथ हो रहे दुर्वयहार पर बात होगी। महिला अपराध पर चर्चा होगी। इस रोकने के उपाय पर बच्चों की राय जानी जाएगी।
सभी लड़कों को शपथ –  दिल्ली के सभी स्कूलों व कालेजों में लड़कों से कसम खिलाएंगे कि जिंदगी में किसी लड़की के साथ गलत नहीं करेंगे। कभी किसी लड़की पर गलत नजर नहीं डालेंगे। किसी लड़की से दुराचार या दुर्ववहार नहीं करेंगे।
लड़कियां घर जाकर भाईयों से बात करेगी – दिल्ली के सभी सरकारी व निजी स्कूल कालेज की लड़कियों को कहा जाएगा कि वह भाई से बात करें।  उनको कहना होगा कि किसी लड़की के साथ गलत न करे। फिर क्लास में लड़की को आकर बताना होगा कि उसने अपने भाई से बात कर ली है।

All Time Favorite

Categories