Home » दिल्ली ईवी नीति के शुभारंभ के बाद 630 नए ईवी दोपहिया पंजीकृत किए गए-कैलाश गहलोत*
Delhi Hindi News

दिल्ली ईवी नीति के शुभारंभ के बाद 630 नए ईवी दोपहिया पंजीकृत किए गए-कैलाश गहलोत*

दिल्ली ईवी नीति के शुभारंभ के बाद 630 नए ईवी दोपहिया पंजीकृत किए गए-कैलाश गहलोत*
नई दिल्ली, 13 फरवरी, 2021 : केजरीवाल सरकार के स्विच दिल्ली इलेक्ट्रिक वाहन अभियान को पहले सप्ताह में जनता और उद्योग जगत से जबरदस्त समर्थन मिला है। दिल्लीवासियों ने बड़ी तादाद में इलेक्ट्रिक दुपहिया वाहन खरीदना शुरू कर दिया है। दिल्ली ईवी नीति की अगस्त 2020 में शुरूआत के बाद से 630 नए ईवी दोपहिया पंजीकृत किए गए हैं और रोजाना हर दिन  पंजीकृत किए जा रहे हैं।
स्विच दिल्ली अभियान का पहला सप्ताह ईवी दोपहिया वाहनों के लाभों के साथ-साथ ईवी नीति के तहत दिए जा  रहे लाभों के बारे में जागरूकता पैदा करने पर केंद्रित है जो आईसीई (आंतरिक दहन इंजन) वाहनों से इलेक्ट्रिक में स्विच करना चाहते हैं।
परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने कहा कि दिल्ली ईवी नीति के शुभारंभ के बाद से 630 नए ईवी दोपहिया वाहनों का पंजीकरण किया गया है। हर दिन वाहन पंजीकृत किए जा रहे हैं। आरएमआई इंडिया द्वारा किए गए विश्लेषण में दिल्ली ईवी पॉलिसी के तहत इलेक्ट्रिक टू व्हीलर्स पर दी जाने वाली सब्सिडी और शीर्ष दो पेट्रोल वाहनों के मूल्य की तुलना की है। लेकिन असली बचत संचालन लागत में है। इलेक्ट्रिक टू व्हीलर पर स्विच करके एक व्यक्ति को  क्रमशः पेट्रोल स्कूटर-बाइक की तुलना में लगभग 1850 से 1650 की मासिक बचत होगी। पेट्रोल स्कूटर का उपयोग करने की तुलना में लगभग 22 हजार रुपये और पेट्रोल बाइक की तुलना में 20 हजार रुपये की बचत होगी।
दिल्ली में इलेक्ट्रिक वाहन पर स्विच करने से पर्यावरण को लाभ प्रमुख हैं। कैलाश गहलोत ने कहा कि एक औसत इलेक्ट्रिक टू व्हीलर एक पेट्रोल दो पहिया वाहन की तुलना में 1.98 टन कार्बन उत्सर्जन कम करता है। इसे सीधे शब्दों में कहें तो हमें 1.98 टन सीओ 2 को अवशोषित करने के लिए लगभग 11 पेड़ों की जरूरत है। इलेक्ट्रिक वाहन पर स्विच कर हम पर्यावरण को बचा सकते हैं।
दिल्लीवालों द्वारा अभियान को आगे बढ़ाने और #DilliKeGreenWarrior पहल के तहत ईवीएस पर स्विच करने के अनुभव को लेकर चार लोगों की कहानी निम्नलिखित है-
1. बिजनेसमैन और तीसरी बार इलेक्ट्रिक वाहन खरीदने वाले दलबीर चंद कोहली ने कहा कि दिल्ली में ईवी खरीदने वाला सात साल पहले मैं पहला व्यक्ति था। दिल्ली सरकार की ईवी नीति के बाद मैंने तीसरा इलेक्ट्रिक वाहन खरीदा और 7700 रुपये की सब्सिडी प्राप्त की। रोड टैक्स और पंजीकरण शुल्क में छूट प्राप्त की है। मैं निश्चित रूप से सुझाव दूंगा कि हर व्यक्ति को ईवी पर स्विच करना चाहिए क्योंकि इससे कम प्रदूषण होता है। काफी कम आवाज होती है और घर पर बहुत आसानी से चार्ज किया जा सकता है। मुझे इलेक्ट्रिक वाहन चलाने का अच्छा अनुभव रहा है।
2. व्यवसायी संजय बेरी ने हाल ही में इलेक्ट्रिक वाहन खरीदा और कहा कि मैंने ईवी में स्विच किया है और इससे मुझे वास्तविक रूप से आर्थिक मदद मिली है। मुझे पहले आशंका थी लेकिन मैं अब इसके प्रदर्शन और वित्तीय लाभों से काफी प्रभावित हूं। मुझे आशा है कि इस नीति का  राष्ट्रव्यापी कार्यान्वयन होना चाहिए, क्योंकि मुझे लगता है कि यह समय की आवश्यकता है।
3. सरकारी कर्मचारी और ईवी मालिक मनवीर सिंह ने कहा, “दिल्ली के मुख्यमंत्री ने दिल्ली के लोगों से प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए कदम उठाने का आग्रह किया है। इसने मुझे ईलेक्ट्रिक वाहन खरीदने के लिए प्रेरित किया। मैंने वित्तीय लाभों के बारे सोचा कि यह मेरे शहर को मेरा योगदान देगा। यदि मेरी तरह, अन्य लोग भी इस स्विच को अपनाने का निर्णय लेते हैं, तो हम सभी दिल्ली की वायु गुणवत्ता को बेहतर बनाने में मदद कर सकते हैं। ईलेक्ट्रिक वाहन को चार्ज करना भी बहुत सरल है। मैं अपने ईवी को सामान्य विद्युत प्वाइंट का उपयोग करके चार्ज करता हूं। कोई भी बैटरी निकाल सकता है और इसे कहीं भी चार्ज कर सकता है। दिल्ली की ईवी नीति के तहत मुझे सब्सिडी के तौर पर 16200 रुपए और रोड टैक्स एवं पंजीकरण के लिए 9,000 की छूट दी गई। दिल्ली सरकार की ईवी पॉलिसी बहुत अच्छी है और इसने मुझे ईवी खरीदने के लिए प्रेरित किया। मेरे मित्र और परिवार ईवी खरीदना चाहते हैं, लेकिन वे हरियाणा में रहते हैं और वहां की ईवी नीति दिल्ली की तरह नहीं है।
4. सुरक्षा गार्ड और ईलेक्ट्रिक वाहन मालिक जितेन्द्र कुमार ने कहा, “मेरी इलेक्ट्रिक बाइक नियमित रूप से और अच्छी तरह से काम करती है। इलेक्ट्रिक वाहन खरीदने के बाद से मेरे ईंधन के खर्च में कटौती आई है। मेरी मासिक आय 10 हजार रुपए रुपए है और मैं पेट्रोल पर बहुत पैसा खर्च करता था। अब, मैं लगभग 3500 रुपए मासिक बचत कर रहा हूं, जो मैं अपने उपयोग लाया। इस बचत से मुझे अपने अन्य खर्चों के प्रबंधन में मदद मिली है। शुरू में, मुझे इलेक्ट्रिक वाहन खरीदने के बारे में कुछ आशंकाएं थीं, लेकिन मासिक बचत और बाइक के सुचारू कामकाज के पहलू ने मुझे इलेक्ट्रिक वाहन खरीदने को लेकर मन बनाने में मदद की। दिल्ली की तरह, अन्य राज्य सरकारों को भी ईवी नीति लानी चाहिए, इससे आम जनता को फायदा होगा।
दिल्ली सरकार के स्विच अभियान को उद्योग जगत ने भी बेहद अच्छी तरह से लिया है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के  नेतृत्व में शून्य उत्सर्जन वाले वाहनों को बढ़ावा देने के कारण कई ईवी दोपहिया कंपनियों ने दिल्ली में आक्रामक रूप से नए वाहन मॉडल लॉन्च करने का फैसला किया है। दिल्ली सरकार की पहल की प्रशंसा करते हुए बजाज ऑटो के एमडी राजीव बजाज ने कहा, ‘‘दिल्ली सरकार की व्यापक, व्यावहारिक और प्रगतिशील ईवी नीति ने हमें बजाज ऑटो को प्रेरित किया कि वह हमारे प्रतिष्ठित इलेक्ट्रिक चेतक को बढ़ाने के लिए हमारी योजना को गति प्रदान करे और साथ ही हमारे बाजार के 3 पहिया वाहनों के इलेक्ट्रिक अवतार को पेश करे। हम कल की दिल्ली को स्वच्छ शहर बनाने के कारणों को आगे बढ़ान के लिए दिल्ली सरकार के साथ मजबूती से काम करने की उम्मीद करते हैं।”
एथर एनर्जी के सह-संस्थापक और सीईओ तरुण मेहता ने कहा कि दिल्ली सरकार द्वारा इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए प्रगतिशील नीतियां चलाई जा रही है। सरकार के स्विच ईवी अभियान से शहर के उपभोक्ताओं में इलेक्ट्रिक वाहनों को खरीद करने के प्रति उनकी इच्छा शक्ति को बढ़ावा मिलेगा। हम पूरे मार्केट में एथर 450 एक्स के प्रति मार्केट में काफी अच्छी प्रतिक्रिया देखा रहे हैं और हम अगले कुछ हफ्तों में दिल्ली में अपना अनुभव केंद्र एथर स्पेस खोलेंगे। दिल्ली में हीरो इलेक्ट्रिक, ओकिनावा और टीवीएस जैसी कई अन्य ईवी टू-व्हीलर कंपनियां कई व्हीकल मॉडल लॉन्च कर चुकी हैं।
स्विच दिल्ली, दिल्ली सरकार द्वारा एक आठ सप्ताह का जन जागरूकता अभियान है, ताकि प्रत्येक दिल्ली वासी को पर्यावरण के लिए इलेक्ट्रिक वाहनों में स्विच करने के फायदों के बारे में जागरूक किया जा सके। साथ ही, उन्हें दिल्ली की ईवी नीति के तहत विकसित किए जा रहे प्रोत्साहनों और बुनियादी ढांचे के बारे में संवेदनशील बनाया जा सके। इस अभियान का उद्देश्य दिल्ली में प्रत्येक व्यक्ति को प्रदूषण फैलाने वाले वाहनों से शून्य उत्सर्जन वाले इलेक्ट्रिक वाहनों में बदलने के लिए बताना, प्रोत्साहित करना और प्रेरित करना है।
लिपाक्षी सीधार द्वारा 

All Time Favorite

Categories