Home » जब पत्नी ने ही कहा, मंत्रीजी! ‘समस्या लेकर आने वाली महिलाओं की पहले सुने’
Haryana

जब पत्नी ने ही कहा, मंत्रीजी! ‘समस्या लेकर आने वाली महिलाओं की पहले सुने’

जब पत्नी ने ही कहा, मंत्रीजी! ‘समस्या लेकर आने वाली महिलाओं की पहले सुने’
घर के साथ-साथ पत्नी भी बंटा रही मंत्री के कार्यों में हाथ
नारनौल,24 सितम्बर,2020:
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ओमप्रकाश यादव गुरुवार आवास पर लोगों की जनसमस्या सुन रहे थे। मंत्री की पत्नी सुमन देवी घर के काम के साथ-साथ बीच में वहां आए लोगों की आवाभगत में लगी थी। इस बीच तीन-चार महिलाएं वहां पहुंच गई। इनमें भाजपा प्रदेश महिला मोर्चा की प्रदेश सचिव कमलेश अत्री व भाजपा जिला महिला अध्यक्ष सरला यादव भी पहुंची। वह महिलाओं से जुड़ड़े कार्यों पर मंत्री की पत्नी से बातचीत करने लगी। उस वक्त मंत्री जी दूसरे लोगों की समस्या सुनने में व्यस्त थे।
यह देख पत्नी ने मंत्री से कहा कि मंत्री जी, समस्या लेकर आने वाली महिलाओं की बात पहले सुने। महिलाओं को बाहरी कार्यों के अलावा घर भी संभालना होता है। इनकी समस्या पहले सुनी जाएगी और समाधान हो जाएगा तो घर के अन्य कार्य भी समय रहते पूरा कर सकती है। यह सुनकर मंत्री ने वहां आई महिलाओं की समस्या सुनी। महिलाओं ने महिला वर्करों के कार्यों से मंत्री को अवगत करवाया। उनकी बात सुनने के बाद मंत्री ने संबंधित अधिकारियों से बातचीत कर उनका कार्य पूर्ण करवाया। महिलाओं की बात सुनने के बाद मंत्री ने कहा कि प्रदेश में हर 20 किलोमीटर की दूरी पर एक महिला कॉलेज खोला गया है ताकि महिलाओं को दूर दराज के क्षेत्रों में जाना ना पड़े और उन्हें नजदीक ही शिक्षा ग्रहण कर सकें। उन्होंने कहा कि शिक्षित महिला दो घरों में अनपढ़ता के अंधेरे को दूर करने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार शिक्षा के साथ-साथ महिलाओं की सुरक्षा के लिए भी कटीबद्ध है।इस दौरान मंत्री ओमप्रकाश यादव ने प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहरलाल का कपास की गिरदावरी के आदेश देने पर उनका आभार जताया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने महेंद्रगढ़ जिला में कपास की फसल खराब हो जाने के बारे में अवगत करवाया था। यहां के किसानों से मुझे इस बारे में बताया था कि क्षेत्र में भारी मात्रा में कपास की फसल में रोग हो जाने के कारण नुकसान हुआ है। मुख्यमंत्री के संज्ञान में यह मामला लाया गया था। जिस पर मुख्यमंत्री ने महेंद्रगढ़ जिला में कपास की गिरदावरी करवाने के आदेश दिए है।  श्री यादव ने कहा कि गिरदावरी करवाकर खराब हुई कपास की फसल का किसानों को उचित मुआवजा दिलवाया जाएगा। उन्होंने कहा कि बाजरे की फसल का एक-एक दाना प्रदेश सरकार खरीदेगी और किसानों को उस अनाज का भुगतान समय पर करेंगी।(  बी.एल. वर्मा ).

All Time Favorite

Categories