Home » खेलो में फिरोजपुर को अंर्तराष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलवाने में अनिरूद्ध गुप्ता का अहम योगदान
Hindi Sports

खेलो में फिरोजपुर को अंर्तराष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलवाने में अनिरूद्ध गुप्ता का अहम योगदान

खेलो में फिरोजपुर को अंर्तराष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलवाने में अनिरूद्ध गुप्ता का अहम योगदान
-हजारों की संख्या में खिलाडिय़ों को अनुभवी प्रशिक्षकों से ट्रेनिंग दिलवा राष्ट्रीय व अंर्तराष्ट्रीय स्तर पर खेलने व पुरस्कार दिलवाने में कर चुके है मदद-
-औद्योगिक रूप से पिछड़े फिरोजपुर को खेलो में विश्व के ग्राफ पर चमकाना ही मुख्य उद्देश्य: अनिरूद्ध-
-खिलाड़ी बोले: खेल प्रेमियों के मसीहा है अनिरूद्ध गुप्ता-

खेलो में फिरोजपुर को अंर्तराष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलवाने में अनिरूद्ध गुप्ता का अहम योगदान

फिरोजपुर, 4 दिसम्बर, 2019 : खेलों के क्षेत्र में खिलाडिय़ों को आधुनिक सुविधाएं मुहैया करवा सीमावर्ती जिले का नाम अंर्तराष्ट्रीय स्तर पर चमकाने में डीसीएम ग्रुप ऑफ स्कूल्स के सीईओ अनिरूद्ध गुप्ता का खास योगदान रहा है। उन्होंने न केवल तन-मन-धन के साथ मेहनत कर हजारों की संख्या में होनहार खिलाड़ी तैयार किए और उन्हें अनुभवी कोचिस के माध्यम से ट्रेनिंग दिलवा राष्ट्रीय व अंर्तराष्ट्रीय स्तर पर नई पहचान दिलवाई है। बल्कि औद्योगिक रूप से पिछड़े जिले को खेलो के क्षेत्र में आगे लाकर विश्व के मानचित्र में फिरोजपुर का नाम रोशन किया है।
सैफ का गठन
अनिरूद्ध गुप्ता द्वारा सरहदी इलाके में खेलो को प्रफुल्लित करने के मकसद से कुछ वर्ष पहले स्पोर्टस एसोसिएशन ऑफ फिरोजपुर -सैफ- का गठन किया गया था, जिसका मुख्य मंत्तव जिले में खेलो का विकास करना और युवा शक्ति को असमाजिक बुराईयों से दूर कर खेलो की तरफ प्रोत्साहित करना था। वह इस एसोसिएशन के अध्यक्ष पद पर सुशोभित भी है। उन्होंने इस क्षेत्र में आर्चरी, गोल्फ, क्रिकेट, वॉलीबाल, लॉन टैनिस, बॉस्केटबाल, हॉकी, रोलर स्केटिंग, एथलैटिक्स, ताइक्वांडो, टेबल टैनिस, बिलियर्डस, चैस, कैरम, कूह-स्पोर्टस जैसी खेले लाने में अहम भूमिका अदा की है।
रोलर स्केटिंग
यहां ये बताना भी जरूरी है कि 2003 में उन्होंने एक बच्चें को लेकर रोलर स्केटिंग की शुरूआत की थी और उसे प्रशिक्षित करने के लिए अनुभवी कोच उपलब्ध करवाया । आज 15 वर्ष बाद जिले में हजारो बच्चे रोलर स्केटिंग में देश-विदेश में लोहा मनवा रहे है। अनिरूद्ध गुप्ता इस समय रोलर स्केटिंग एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष के अलावा पंजाब रोलर स्केटिंग एसोसिएशन के उपाध्यक्ष भी है। उनके नेतृत्व में बच्चें इंटरनैशनल स्तर पर खेलने के अलावा नैशनल स्तर पर गोल्ड व सिल्वर मैडल जीत चुके है।
टेबल टैनिस
टेबल टैनिस में भी उन्होंने पिछलें दो दशक के अंतराल मेें इस खेल का परचम लहराया है। जहां वह खुद इस गेम में चैम्पियन रह चुके है तो वहीं उनके नेतृत्व में कई तरह की स्टेट व नैशनल स्तर की चैम्पियनशिप आयोजित होने के अलावा फिरोजपुर को पिछलें आठ साल से कभी ना हारने वाली टेबल टैनिस चैम्पियन यशि शर्मा भी अनिरूद्ध गुप्ता की देन है। अकेली यशि ही नहीं फिरोजपुर की वूमैन, मैन, यूथ, गल्र्स टीम स्टेट चैम्पियन बनती आ रही है, जिसमें अनु शर्मा, धृति, यशित ङ्क्षसह, जसनूर कौर, तमन्ना प्रांत स्तरीय चैम्पियनशिप में विजेता घोषित हो गोल्ड मैडल जीत चुके है तो कैडिट पंजाब चैम्पियन में भव्य यादव नैशनल चैम्पियन व मैन टीम में सनील सिकरी स्टेट चैम्पियन है। उनके द्वारा यशि शर्मा के परिवार को रोपड़ से फिरोजपुर शिफ्ट करवाना और यशि को हरसंभव सुविधाएं उपलब्ध करवा उसे खेलों में आगे बढऩे की तरफ अग्रसर करना उनकी कोशिशों का ही परिणाम है। गुप्ता इस वक्त फिरोजपुर डिस्ट्रिक्ट टेबल टैनिस एसोसिएशन के अध्यक्ष व पंजाब टेबल टैनिस एसोसिएशन के उपाध्यक्ष है।
बैडमिंटन
उनके द्वारा फिरोजपुर में बैडमिंटन को मुकाम हासिल करवाने के लिए अनेको सार्थक कदम उठाएं गए है। यहीं कारण है कि सवरीत कौर, जैसमीन बिंद्रा, अनामिका, प्रभसिमरण, मनीतलोक ङ्क्षसह बिंदरा, सचिन व अमन जैसे खिलाड़ी स्टेट व नैशनल स्तर पर खेलकर फिरोजपुर का नाम चमका चुके है। उन्होंने 9 वर्षीय खिलाड़ी स्नोई व उसके भाई ऐश को एडॉप्ट किया। स्नोई जोकि तेज रफ्तार से खेलकर सभी दांतो तले अंगुली दबाने को मजबूर कर देती है और छोटी आयु में सैंकड़ो पुरस्कार जीत चुकी है। उसके पिता रमन गोस्वामी जोकि स्वयं कोच है। अपने भाई के साथ खेलने वाली स्नोई देश का नाम विश्वभर में खेलो के माध्यम से चमकाना चाहती है। अनिरूद्ध गुप्ता द्वारा मयंक शर्मा बैडमिंटन चैम्पियनशिप शुरू करवाकर कई प्रतिभाशाली खिलाडिय़ो की खोज की जा रही है।
योग
समाज को निरोग बनाने के लिए उनके द्वारा योगा के प्रति युवाओं सहित हरेक वर्ग को प्रोत्साहित करने के मंत्तव से योगा एसोसिएशन का गठन किया। योग प्रेमियों को एक बैनर तले लाकर हरेक स्कूल, कॉलेज, कॉलोनी, मोहल्लो व पार्को में योगा का संदेश फैलाकर इस ज्यादा से ज्यादा लोगों को इसके साथ जुडऩे का आह्वान कर समाज को योग के माध्यम से निरोग मुक्त रहने का संदेश दिया जा रहा है। वह एशियन योगा फैडरेशन के उपाध्यक्ष व फिरोजपुर योग एसोसिएशन के अध्यक्ष है। पिछलें दिनो ही उनके द्वारा डिस्ट्रिक्ट योग चैम्पियनशिप करवाने के अलावा चयनित खिलाडिय़ों को स्टेट में भेजा था।
लॉन टैनिस
विद्यार्थियों सहित युवाओं को लॉन टैनिस में प्रोत्साहित करने में जहां उनके द्वारा प्रयत्न निरंतर जारी है तो वहीं अनुभवी कोच जिले में बुलाकर विद्यार्थियों को कोचिंग दिलवाई जा रही है। उनके द्वारा खिलाडिय़ों की सुविधा हेतू कॉट का भी निर्माण करवाया गया है।
आर्चरी
उनके द्वारा खिलाडिय़ों को आर्चरी में निपुण बनाने के लिए जहां स्पैशल कोच अरेंज कर कॉट बनाया गया है तो वहीं गोल्फ के प्रति बढ़ते रूझान को देखते हुए अनिरूद्ध गुप्ता द्वारा रेंज स्थापित की गई है। जल्द ही इंटर स्कूल गोल्फ चैम्पियनशिप करवा लोगों में इसके प्रति रूझान को बढ़ावा दिया जाएगा।
हॉकी
हॉकी में शहीदो के शहर ने ओलम्पियन अजीत सिंह, ओलम्पियन गगन अजीत सिंह, ओलम्पियन गुरबाज सिंह, जूनियर वर्ल्ड कप विजेता टीम सदस्य परविन्द्र सिंह पिंदी जैसे प्रतिभावान हॉकी प्लेयर पैदा किए है, लेकिन पिछलें कुछ समय से अनिरूद्ध गुप्ता द्वारा हॉकी फिरोजपुर एसोसिएशन कको गठित कर खिलाडिय़ों में फिर से इस खेल के प्रति रूचि को जगाया है और खिलाडिय़ों को बेहतर सुविधाएं मुहैया करवाने की तरफ प्रयास करवाएं जा रहे है। इस वक्त इस खेल में सैंकड़ो खिलाड़ी कोचिंग लेकर फिर से ओलम्पिक में जाकर फिरोजपुर का नाम चमकाने की तरफ कदम बढ़ा रहे है।
क्रिकेट
उनकी क्रिकेट में भी खास रूचि रहीं है। जिले के इतिहास में पहली बार गुप्ता द्वारा लड़कियों की क्रिकेट टीम तैयार की गई और उन्हें प्रशिक्षित करने हेतू नैशनल महिला क्रिकेट प्लेयर मुहैया करवाई गई। जिनके प्रयासों के चलते हर्षिता, किरणजीत, तानिया, कर्मणवीर कौर इत्यादि खिलाड़ी राज्य स्तरीय महिला क्रिकेट प्रतियोगिता में गोल्ड व सिल्वर मैडल जीत चुके है । युवा टीम में सुखमनप्रीत सिंह, हरमनप्रीत सिंह, गुरबीर ङ्क्षसह, अनमोलप्रीत ङ्क्षसह, धर्मप्रीत ङ्क्षसह ने भी स्टेट टीम में जीतकर जिले को तगमे दिलवाएं है। क्रिकेट के उभरते खिलाडिय़ों के प्रशिक्षण हेतू गुप्ता द्वारा साऊथ अफ्रीका के क्रिकेट कोच गैरी क्रिस्टन के माध्यम से खिलाडिय़ों को ऑनलाइन कोचिंग दिलवाने की तरफ भी कदम बढ़ाया है। उनके द्वारा पिछलें दिनो डिविजनल रेल मैनेजर व उनकी टीम के साथ क्रिकेट मैच का आयोजन करवाया जा चुका है।
वहीं बॉस्केटबाल, ताइक्वांडो, चैस को प्रफुल्लित करने में भी अनिरूद्ध गुप्ता द्वारा ठोस कदम उठाएं जा रहे है ताकि युवा पीढ़ी नशो व असमाजिक बुराईयों को छोडक़र खेलों में जिले सहित देश का नाम रोशन कर इतिहास रच सके।
खेलो के उत्थान में प्रयास सराहनीय: खेल अधिकारी
जिला खेल अधिकारी सुनील शर्मा ने कहा कि इसमें कोई संदेह नहीं है कि अनिरूद्ध गुप्ता ने सीमावर्ती जिले में खेलो के उत्थान व अनुभवी कोच उपलब्ध करवाने की जो पहल की है, वह सराहनीय कदम है और कभी भुलाया नहीं जा सकता। उन्होंने कहा कि कभी हॉकी में ही फिरोजपुर का नाम हुआ करता था, लेकिन गुप्ता के प्रयासों के बाद हरेक खेल में यहां के खिलाड़ी राष्ट्रीय व अंर्तराष्ट्रीय स्तर पर तगमे जीत रहे है जोकि सरहदी जिले के लिए हर्ष की बात है।
खिलाडिय़ों के लिए उठाएं अहम कदम: खेल प्रेमी
खेल प्रेमी रंजन शर्मा, चन्द्रमोहन हांडा, रूबल, जसप्रीत, अंशुल शर्मा ने कहा कि सीमावर्ती जिले में आएं दिन खेलो की चैम्पियनशिप करवा खिलाडिय़ों में छुपी प्रतिभा को निखारने हेतू अनिरूद्ध गुप्ता द्वारा जो प्रयास किए जा रहे है वह वाकई तारीफ के काबिल है। गुप्ता के अनथक प्रयासों से ही नैशनल व इंटरनैशनल स्तर के खिलाड़ी फिरोजपुर में आ रहे है और कई तरह की चैम्पियनशिप हो रही है।

About the author

Harish Monga

Harish Monga

Sr. Correspondent and Feature Writer
harishmongadido@gmail.com
Author of Frankly Speaking...Feeling sometimes is not a reality
Available on Flipkart and Amazon:
https://www.flipkart.com/books/harish-monga~contributor/pr?sid=bks
https://www.amazon.in/dp/9388435915/ref=cm_sw_r_wa_apa_i_u4hrFbP07A678

Add Comment

Click here to post a comment

All Time Favorite

Categories