Home » आसाम राइफल के जवान की ड्यूटी के दौरान मौत, सैनिक सम्मान के साथ किया गया अंतिम संस्कार
Hindi News

आसाम राइफल के जवान की ड्यूटी के दौरान मौत, सैनिक सम्मान के साथ किया गया अंतिम संस्कार

आसाम राइफल के जवान की ड्यूटी के दौरान मौत, सैनिक सम्मान के साथ किया गया अंतिम संस्कार
शहीद एक जाति, बिरादरी व क्षेत्र के न होकर सम्पूर्ण देश के होते है: सांसद बालकनाथ
बी.एल. वर्मा द्वारा :नारनौल 4 जून 2019 :समीपवर्ती गांव हुडिय़ा खुर्द निवासी आसाम राईफल के जवान मनोज यादव (31) की ड्यूटी के दौरान मौत होने पर उसका अंतिम संस्कार पैतृक गांव में सैनिक सम्मान के साथ कर दिया गया। जवान की अंतिम यात्रा में अलवर के सांसद मंहत बालकनाथ, पूर्व सांसद डा. कर्णसिंह व बहरोड के विधायक बलजीत यादव समेत प्रमुख रूप से पहुंच कर श्रद्धांजलि अर्पित की। जवान के शव के साथ आसाम राईफल के जवानों ने मातमी धुन बजा कर हवाई फायर कर सलामी दी। जवान के शव के साथ आये कंपनी कमांडर मेजर मनप्रीत सिंह ने बताया कि दीमापुर आसाम में 2012 में 16 बटालियन की आसाम राईफल में भर्ती हुआ था। वर्तमान में अरूणाचल प्रदेश के ब्रह्म बॉर्डर पर ड्यूटी के दौरान 2 जून को मौत होने पर सैनिक को शहीद के श्रेणी में शामिल किया। सांसद मंहत बालकनाथ ने कहा कि शहीद किसी एक परिवार, बिरादरी, क्षेत्र के ना हो कर सम्पूर्ण देश के होते है। सैनिकों व अर्धसैनिकों के बल पर ही हम स्वतंत्र व खुले में घुम रहे है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने दूसरे चरण की सरकार में पहली कलम से शहीदों के बच्चों की छात्रवृत्ति में बढ़ोतरी कर शहीदों को सम्मान दिया है। गांव के युवा श्रीराम यादव ने बताया कि जवान अपने पीछे पत्नी मनीषा देवी, 4 वर्षीय पुत्र मंयक, डेढ़ साल की पुत्री वर्णिका मां व पिता रिटायर्ड सूबेदार सहित भरा पूरा परिवार छोड़ गए है। इस मौके पर प्रधान मनोज सविता, पूर्व प्रधान बलवान सिंह यादव, तहसीलदार रेखा यादव, बस्तीराम यादव, सरपंच कैप्टन राजेंद्र यादव, सरपंच हुडिय़ा कलां राकेश, पूर्व सरपंच ओमप्रकाश, ताराचंद प्रधान, मांढ़ण थाना प्रभारी प्रवीण मीणा, काठूवास चौकी इंचार्ज अभय यादव, कंवर सिंह बोहरा, ठेकेदार जयसिंह, धर्मपाल पंच समेत अनेक गणमान्य लोग मौजूद रहे।
जवान के पिता कैलाश आर्मी ये रिटायर्ड सूबेदार तथा बड़ा भाई भी भारतीय सेना में अपनी सेवा दे रहा है। सांसद ने जवान के स्मारक स्थल के लिए व चार दिवारी बनवाने की घोषणा की।

All Time Favorite

Categories