Home » आजाद हिंद फौज के सैनिक हीरासिंह आजाद को पराक्रम दिवस पर किया सम्मानित
Hindi News

आजाद हिंद फौज के सैनिक हीरासिंह आजाद को पराक्रम दिवस पर किया सम्मानित

आजाद हिंद फौज के सैनिक हीरासिंह आजाद को पराक्रम दिवस पर किया सम्मानित नारनौल,24जनवरी,2021: प्रदेश के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ओमप्रकाश यादव ने पराक्रम दिवस के तहत रविवार गांव चिंडालिया वासी आजाद हिंद फौज के सैनिक हीरासिंह आजाद को सम्मानित किया। हीरासिंह इस समय 100 साल के हो चुके है। सैनिक द्वितीय विश्व युद्ध में हीरासिंह शामिल हुआ था।
शहर के नेताजी सुभाषचंद्र बोस पार्क में हुए इस सम्मान समारोह में सर्वप्रथम नेताजी सुभाषचंद्र बोस की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें नमन किया। इस दौरान मंत्री ने कहा कि स्वतंत्रता सैनानी हीरासिंह नेताजी सुभाषचंद्र बोस के सहयोगी रहे। नेताजी जब रंगुन गए तो उनके साथ हीरासिंह गए थे। देश को आजाद करवाने में नेताजी की हर लड़ाई में हीरासिंह साथ रहे। हीरासिंह सहित आजाद हिंद फौज के चार जवानों को साल-2019 में दिल्ली में 26 जनवरी पर एक खुली जीप में वर्दी पहने बैठाया गया और उनके पीछे सशस्त्र सेनाओं की कई टुकडिय़ां थी। यह सैनिक द्वितीय विश्व युद्ध में शामिल हुए थे। मंत्री ने कहा कि देश की आजादी में सुभाषचंद्र बोस व उनके साथी हीरासिंह आजाद के बलिदान को यह देश कभी नहीं भुलाएगा। उन्होंने अंग्रेंजी हुकूमत से देश को आजाद करवाने के लिए बड़ी यातनाएं सहन की। आजाद भारत उन्हीं के संघर्ष व बलिदान का परिणाम है। हीरासिंह आजाद को गीता की पुस्तक, नेताजी सुभाषचंद्र बोस का चित्र व शॉल ओढक़र सम्मानित करते हुए मंत्री ने कहा कि मेरे लिए सौभाग्य की बात है कि नेताजी सुभाषचंद्र बोस के साथी को आज सम्मानित करने का अवसर मिला। मेरे जीवन में यह पल एक स्मरणिय रहेगा। इस मौके पर रोहताश चेयरमैन, कंवरसिंह चेयरमैन, डा. आरके जांगड़ा, मनीष संघी, विकास अग्रवाल, रतनलाल एडवोकेट, बंटी ठेकेदार, राजू कमानिया, मदनलाल गोगिया सहित अनेक लोग मौजूद थे (  बी.एल. वर्मा  ).

All Time Favorite

Categories