Haryana

अभावि परिषद ने हैदराबाद में पशु चिकित्सक के साथ हुई बर्बरता के विरोध में निकाली आक्रोश मार्च

अभावि परिषद ने हैदराबाद में पशु चिकित्सक के साथ हुई बर्बरता के विरोध में निकाली आक्रोश मार्च

नारनौल शहर में हैदराबाद में एक महिला पशु चिकित्सक के साथ हुई बर्बरता के विरोध में आक्रोश प्रदर्शन में हिस्सा लेते अभावि परिषद के सदस्य तथा महावीर चौक पर पुतला जलाते हुए।आत्मा को झकझोर देने वाले घृणित कृत्य की कड़ी भत्र्सना की
बी.एल. वर्मा द्वारा :
नारनौल,3दिसम्बर,2019: अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद नारनौल इकाई के द्वारा हैदराबाद में एक महिला पशु चिकित्सक के साथ हुई बर्बरता के विरोध में मंगलवार को सामाजिक संगठनों के साथ मिलकर शहर में आक्रोश मार्च निकाला गया। यह आक्रोश मार्च सुबह साढ़े बजे आजाद चौक स्थित राव बंसी सिंह पार्क से प्रारंभ हुआ। यहां अभाविप के जिला संयोजक विशाल दायमा ने सभी सदस्यों को संबोधित किया एवं अनुशासनात्मक ढंग से इस जघन्य अपराध के खिलाफ  पुरजोरआवाज उठाने के लिए आह्वान किया। उन्होंने अपनी मांग रखते हुए यह बताया कि अभाविप हमारी उस बहन के साथ हुई। इस बर्बरता पूर्ण एवं आत्मा को झकझोर देने वाले घृणित कृत्य की कड़ी भत्र्सना करता है तथा दोषियों को मृत्युदंड से भी बत्तर सजा देने की मांग करता है। हैदराबाद की पुलिस प्रशासन द्वारा कार्यवाही में 2 दिन तक ढिलाई रखने तथा सुरक्षा की पर्याप्त व्यवस्था ना होना पुलिस प्रशासन की कार्य प्रणाली पर प्रश्नचिन्ह खड़ा करता है। तेलंगाना सरकार के गृह मंत्री द्वारा दिया गया बयान उनकी संकुचित मानसिकता को दर्शाता है, अपराधियों पर शीघ्र ही कड़ी कार्यवाही करने के स्थान पर मृत डाक्टर पर प्रश्नचिन्ह खड़ा करना अत्यंत ही चिंताजनक है उनका यह कथन की लडक़ी ने घरवालों को फोन क्यों किया पुलिस को क्यों नहीं उनका यह वाक्य ही तेलंगाना सरकार एवं प्रशासन की महिला संबंधित मानसिकता को प्रदर्शित करता है।

अभावि परिषद ने हैदराबाद में पशु चिकित्सक के साथ हुई बर्बरता के विरोध में निकाली आक्रोश मार्च
यह अत्यंत ही चिंतनीय विषय है कि एक महिला जो कि किसी व्यक्ति से मदद की अपेक्षा कर रही हो, सहायता के स्थान पर उसके साथ सामूहिक बलात्कार एवं जिंदा जला देना यह समाज के उन कुंठित लोगों की सोच को प्रदर्शित करता है। सरकार इस घटना के आरोपियों को जल्द से जल्द फास्ट ट्रैक कोर्ट में कानूनी कार्रवाई के द्वारा सुनवाई कर मृत्युदंड से भी कड़ी सजा प्रदान करें, जिससे समाज में एक उदाहरण प्रस्तुत हो। अपने उद्बोधन के पश्चात सभी सदस्य क्रमबद्ध होकर नारेबाजी करते हुए एवं रोष प्रकट करते हुए शहर के मुख्य बाजार, आजाद चौक, मानक चौक, पुल बाजार, महावीर मार्ग होते हुए शहर के मुख्य केंद्र चौराहे महावीर चौक पर पहुंचे एवं भारी रोष प्रकट करते हुए बलात्कारियों को फांसी पर लटका कर उनका पुतला दहन किया गया। इसके पश्चात सभी सदस्य नारेबाजी करते हुए जिला उपायुक्त के कार्यालय पहुंचे तथा भारत के राष्ट्रपति प्रधानमंत्री व मुख्य न्यायालय के न्यायाधीश के नाम ज्ञापन सौंपा वे कड़ी से कड़ी सजा की मांग की। इस रोष प्रदर्शन में नारनौल नगर मंत्री हिमांशु शर्मा, नगर सोशल मीडिया प्रमुख मोहित वर्मा, नगर सह मंत्री अमन रोहिल्ला, प्रवीण सिखवाल, निखिल सैनी, टिंकू प्रधान, संदीप प्रजापत, सुधीर कुमार यादव, सुनील सैनी, दीपक सैनी, नितिन वशिष्ठ व मोनिका जिला समेत अनेकों सदस्य मौजूद रहे।

All Time Favorite

Categories